Saturday, November 30, 2013

गाँव जतोली, आपदाग्रस्त उत्तराखंड से बेला नेगी का एक फ़ोटो - निबंध







7 comments:

Asad Zaidi said...

Wonderful work! Great vision.

मुनीश ( munish ) said...
This comment has been removed by the author.
मुनीश ( munish ) said...

पहाड़ के किसी बच्चे का कैमरे के सामने आते ही न मुस्कुराना शेष देश के गाल पर थप्पड़ जैसा है । ये बच्चा जूड द ऑबस्कयोर के फ़ादर टाइम की तरह परेशान करता है । मेरे विचार से हमें पहाड़ों का राजनैतिक प्रबंधन अपने पास रखते हुए उन्हें फ़ौरन आउटसोर्स कर देना चाहिए क्योंकि उन्हें संभाले रखने में हम बुरी तरह नाकाम हो चुके हैं ।

मुनीश ( munish ) said...

हिन्दी ब्लौग जगत अब मर चुका है , सड़ चुका है अब जाके मुझे ये पूरा विश्वास हुआ है आज ।

मुनीश ( munish ) said...
This comment has been removed by the author.
मुनीश ( munish ) said...

शायद मुझे इतना भावुक नहीं होना चाहिए था जितना मैं कल हो गया था । हिन्दी ब्लौग जगत तो महान है महानता के अग्रदूतों का पालना है ये ।

alka sarwat said...

मैं मुनीश जी के हर कमेन्ट से सहमत हूँ

कुछ जड़ी बूटियों को घड़े में हल्दी के साथ बंद करके मैंने एक दवा तैयार की है जो बुढ़ापे के असर को अस्सी प्रतिशत तक कम कर देगी ,नये बाल उग जायेंगे ,टूटे दांत भी निकल सकते हैं हड्डियों और जोड़ों के सारे दर्द गायब हो जायेंगे। अगर आपको चाहिए तो फोन कीजिये मुझको।