Saturday, March 23, 2013

खेलें मसाने में होरी दिगंबर



होली के स्वागत में पंडित छन्नूलाल मिश्र के स्वर में सुनिए यह कम्पोजीशन -


3 comments:

Digamber Ashu said...

प्रयाग संगीत समिति में अभी हाल ही में उन्हें सुनने का अवसर मिला. होली भी सुनाये और चैती भी, लेकिन यह होली सुनने का सुअवसर नहीं मिला. धन्यवाद.

प्रवीण पाण्डेय said...

अहा..

Anonymous said...

बेजोड़!