Monday, August 5, 2013

लीला नायडू, साल्वाडोर डाली, रास्पुटिन और कबाड़ख़ाने की एक पुरानी पोस्ट


दो दिन पहले इतेफ़ाक़ से ऋषिकेश मुखर्जी की फ़िल्म ‘अनुराधा’ देखी. १९६० में बनी इस फ़िल्म में बलराज साहनी और लीला नायडू मुख्य भूमिकाओं में थे और संगीत पंडित रविशंकर का था. उस साल इस फ़िल्म को राष्ट्रीय पुरुस्कार भी मिला. फ़िल्म में लीला नायडू के अभिनय की खासी तारीफ़ हुई.

आज इन्हीं लीला नायडू के बारे में कुछ दिलचस्प बातें बांट रहा हूँ.

लीला के पिता डॉ. रामैय्या नायडू परमाणु भौतिकी के क्षेत्र में खासे जाने-माने व्यक्ति थे. माता मार्थे मांगे स्विस-फ्रेंच मूल की थीं. १९५४ में लीली को जयपुर की महारानी गायत्री देवी के साथ ‘मिस इण्डिया’ का खिताब दिया गया और मशहूर फैशन पत्रिका ‘वोग’ ने उन्हें संसार की दस सबसे खूबसूरत स्त्रियों में शुमार किया.

मिस इण्डिया बनने के बाद उन्होंने फ्रेंच फ़िल्म निर्माता ज्यां रेनोआ से अभिनय सीखा और कहा जाता है कि रेनोआ के तत्कालीन सहायक सत्यजित रे लीला और मर्लिन ब्रांडो को लेकर एक फ़िल्म बनाना चाहते थे. 

जब विख्यात निर्देशक डेविड लीन बोरिस पास्तरनाक के मशहूर उपन्यास ‘डॉक्टर ज़िवागो’ पर फ़िल्म बनाने की शुरुआत कर रहे थे, फ़िल्म की नायिका टोन्या ग्रोमेन्को के रोल के लिए लीला ही उनकी पहली पसंद थीं. यह अलग बात है कि चार्ली चैपलिन की पुत्री जेराल्डीन ने अंततः वह भूमिका निभाई.

जीनियस पेन्टर साल्वाडोर डाली ने अपनी कृति ‘मैडोना’ के लिए लीला नायडू को बतौर मॉडल लिया था.

विख्यात कवि-लेखक डॉम मोराईस से विवाह करने के बाद लीला हांगकांग चली गईं जहां उन्होंने डॉक्यूमेंट्री फ़िल्में बनाना शुरू किया और हांगकांग की फिल्मों को अंग्रेज़ी में डब करना भी. फ्रेंच नाटककार यूजीन आयोनेस्को की रचनाओं का तर्जुमा करने के साथ-साथ उन्होंने ‘सोसायटी’ पत्रिका के संपादन का काम भी किया. इस दौरान उन्होंने जे.आर.डी. टाटा पर एक फ़िल्म बनाई – ‘हाउ टू यूज़ अ वॉशरूम इन द प्लेन’.

कुछ साक्षात्कारों के लिए इंदिरा गांधी ने उन्हें अपने अनुवादक के तौर पर भी रखा.

उनके नाना एक फैक्ट्री के मालिक हुआ करते थे और यूरोप में अमेरिकी थ्रेशिंग मशीन सप्लाई करने वाले इकलौते शख्स. उनकी फैक्ट्री में एक आदमी काम किया करता था जिसे उन्हें अपने एक साथी के हाथ पर गर्म लोहे की छड़ से हमला करने के जुर्म में निकालना पड़ा. यह आदमी बाद में बेनितो मुसोलिनी के नाम से दुनिया के सबसे खौफनाक तानाशाहों में शुमार हुआ.

इन्हीं नाना जी के घर के ठीक अगले मकान में राजकुमार फेलिक्स यूसुपोफ़ (काउंट यूसुपोव) रहा करते थे. इतिहास इस काउंट यूसुपोव को इसलिए याद रखता है कि उसने “पागल रहस्यवादी” के नाम से कुख्यात रूसी कल्ट ग्रेगोरी रास्पुटिन का क़त्ल किया था.

उनकी रिश्ते की बुआ सरोजिनी नायडू ने उनके बचपन में उन्हें एक दफ़ा चॉकलेट का एक डिब्बा देकर कहा कि वे चाहें तो घर के आउटहाउस में जाकर मिकी माउस से जाकर मिल सकती है. यह मिकी माउस जनाब मोहनदास करमचंद गांधी निकले.

चलिए लीला नायडू के बहाने कबाड़खाने की एक पुरानी पोस्ट से बोनी एम का गाया रास्पुटिन फिर से सुना जाय –

ग्रिगोरी रास्पुटिन बीसवीं सदी के रूस के सबसे विवादास्पद और आकर्षक व्यक्तित्वों में एक था. रूस के तत्कालीन ज़ार निकोलस द्वितीय, उसकी पत्नी और पुत्र पर उसका बहुत गहरा प्रभाव था. क़िस्सों और अफ़वाहों से निर्मित रास्पुटिन की जीवन कथा धीरे-धीरे एक तरह का मिथक बन चुकी है. वह मुक्त यौन संबंधों में विश्वास रखने वाला एक धर्मगुरु था और समाज के भद्रलोक में वह बेहद लोकप्रिय रहा. ४७ वर्ष की वय में उसका क़त्ल कर दिया गया. उसके जीवन की तरह ही उसकी मौत भी एक मिथक के तौर पर स्थापित हुई.

१९१७ में रोमानोव वंश के पतन के लिए भी परोक्ष रूप से रास्पुटिन को ही ज़िम्मेदार माना जाता है. इसी अत्याकर्षक ऐतिहासिक व्यक्तित्व के जीवन पर आधारित एक गीत बोनी एम ग्रुप ने जारी किया था. उनका गाया मा बेकर’ भी कबाड़ख़ाने में लगाया जा चुका है. 





ये रहे गीत के बोल:


There lived a certain man in Russia long ago
He was big and strong, in his eyes a flaming glow
Most people looked at him with terror and with fear
But to Moscow chicks he was such a lovely dear
He could preach the Bible like a preacher
Full of ecstasy and fire
But he also was a kind of teacher
Women would desire

Ra Ra Rasputin
Lover of the Russian queen
There was a cat that really was gone
Ra Ra Rasputin
Russia's greatest love machine
It was a shame how he carried on

He ruled the Russian land and never mind the czar
But the kasachok he danced really wunderbar
In all affairs of the state he was the man to please
But he was real great when he had a girl to squeeze
For the queen he was no wheeler dealer
Though she'd heard the things he'd done
She believed he was a holy healer
Who would heal her son

Ra Ra Rasputin
Lover of the Russian queen
There was a cat that really was gone
Ra Ra Rasputin
Russia's greatest love machine
It was a shame how he carried on


But when his drinking and lusting and his hunger
for power became known to more and more people,
the demands to do something about this outrageous
man became louder and louder.

1 comment:

मुनीश ( munish ) said...

काराओके में बहुत लोकप्रिय देखा है ये गीत यहाँ और गाना मजबूरी बन गई तो दो तीन दफ़ा धुन के साथ गाना पड़ा स्क्रीन पर शब्द देखकर ।