Thursday, October 4, 2012

कैमरे का कवि रॉबर्ट कापा




रॉबर्ट कापा हमारे समय के बहुत बड़े फोटोग्राफर थे. अपने जीवनकाल में सत्तर हज़ार से ज़्यादा नेगेटिव्स एक्सपोज़ करने वाले कापा को कैमरे का कवि कहा जाता था.

बुडापेस्ट में १९१३ में जन्मे कापा की छवियों ने एक समयहीन, सार्वभौमिकता है जो इतिहास के सीमित दायरों से परे निकल जाती है. उन्होंने पांच युद्ध कवर किए और जापान से लेकर यूरोप तक की विभीषिकाओं को अपने कैमरे में दर्ज किया.

कापा के दोस्तों में उस समय के नामी धुरंधर अभिनेता, कलाकार और लेखक थे. गैरी कूपर इंग्रिड बर्गमैन, अर्नेस्ट हैमिन्ग्वे, जॉन स्टीनबैक, आर्ट बुक्वाल्ड, पाब्लो पिकासो और ऑनरी मातीस कापा के अंतरंग मित्र थे. पाब्लो पिकासो का एक अतिविख्यात फोटो जो इस पोस्ट के शीर्ष में लगा है, कापा का ही खींचा हुआ है.


१९५४ में चालीस की आयु में जब वे लाइफपत्रिका के लिए एक स्टोरी करने इंडो-चाइना गए थे, एक बारूदी सुरंग पर पैर पड़ने के कारण उनकी असमय मृत्यु हो गयी. उनकी प्रेमिका गेर्दा तारो भी कुछ समय पहले स्पानी युद्ध कवर करते हुए मारी गयी थीं. ऊपर लगा कापा का फोटो  गेर्दा तारो ने खींचा था.

आज कापा के खींचे कुछ फोटोग्राफ -






2 comments:

Rangnath Singh said...

बहुत सुन्दर...

Vineeta Yashswi said...

Wonderful post...