Friday, December 10, 2010

दुख की घड़ी में हम सब आपके साथ है अशोक भाई…

अभी अजय जी का हिमाचल से फोन आया…कबाड़खाना के माडरेटर भाई अशोक पांडे के पिता जी नहीं रहे…    

इधर कई बार बातचीत में अशोक पिताजी के स्वास्थ्य के बारे में बताते रहते थे।
वह पिछले कुछ समय से काफ़ी बीमार चल रहे थे।


दुख की इस घड़ी में कबाड़खाने का यह पूरा वर्चुअल परिवार आपके साथ है भाई…

43 comments:

सोमेश सक्सेना said...

इश्वर मृत आत्मा को शांति प्रदान करे...

नीरज गोस्वामी said...

मृतक की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूँ...इश्वर परिवार जन को इस दुखद घडी में संबल प्रदान करे...

नीरज

anurag vats said...

bahut dukh hua jankar...samvednayen ashokji ke sath...

डॉ.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

माता पिता के न रहने और बुजुर्गों का हाथ सिर पर से उठ जाने से जो सूनापन आ जाता है वह भरा नहीं जा सकता। भाई के परिवार को इस दुःख की घड़ी में ईश्वर सहनशक्ति दे।
ईश्वर पिताजी को चिरशांति प्रदान करें भड़ास परिवार यही प्रार्थना करता है।

vandan gupta said...

विनम्र श्रद्धांजलि।

VICHAAR SHOONYA said...

oh ! पाण्डेय जी के पिताजी को मेरी ओर से भावभीनी श्रद्धांजलि.

S.M.Masoom said...

बाप के जाने का ग़म मैं जानता हूँ . अशोक भाई हम अब आपके साथ हैं

S.M.Masoom said...

बाप के जाने का ग़म मैं जानता हूँ . अशोक भाई हम अब आपके साथ हैं

pankaj srivastava said...

ओह..आसमान फट गया..श्रद्धांजलि..

Satish Saxena said...

बेहद बुरी खबर ....इस अंतहीन वेदना में कुछ कहने योग्य नहीं ...ईश्वर आपको शक्ति दे !

राजेश उत्‍साही said...

अशोक जी, मैं और आप एक ही नाव में सवार हैं। 3 दिसम्‍बर को मेरे पिताजी भी लंबी बीमारी के बाद चल बसे। दिवंगत आत्‍मा को शांति मिले यही कामना है।

मृत्युंजय said...

श्रद्धांजलि..

मृत्युंजय said...

श्रद्धांजलि..

नवनीत पाण्डे said...

सबसे अधिक पीडादायक है पिता का जाना..क्यूंकि पिता के साथ होने का अहसास मात्र आपको न जाने कितने दायित्त्वों से मुक्त कर देता है, उनका जाना अर्थात कई अतिरिक्त दायित्त्व.. दुख की इस घडी में हम आपके साथ हैं अशोक जी! परिवार को इस दुःख की घड़ी में ईश्वर सहनशक्ति दे।

shikha varshney said...

विनम्र श्रद्धांजलि.

sanjay vyas said...

इस खबर से आघात में हूँ.बेहद दुःख की घड़ी है.दिवंगत को श्रद्धांजलि.

Syed Ali Hamid said...

My heartfelt condolences, Ashok. May his soul rest in peace. Amen.

चंद्रमौलेश्वर प्रसाद said...

किसी अज़ीज़ को खोने का दुख तो होता ही है पर नियति के सामने किसका बस चले। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें॥

विजय गौड़ said...

विनम्र श्रद्धांजलि।

dhiru singh { धीरेन्द्र वीर सिंह } said...

हार्दिक श्रद्धांजली . ईश्वर आत्मा को शान्ति प्रदान करे

प्रवीण पाण्डेय said...

आपके पिताजी को श्रद्धांजलि।

अपूर्व said...

दुखद घटना है..अशोक जी के आदरणीय पिता जी को हार्दिक श्रद्धांजलि!

शिवम् मिश्रा said...

विनम्र श्रद्धांजलि.

कडुवासच said...

विनम्र श्रद्धांजलि .....

Sunder Chand Thakur said...

Ashok will move on...though he is a very emotional fellow as i am...but he will move on...his earning is his friends...and i know how he looked after his father...like a soldier on the front...he did not even blink his eyes...hamare liye Ashok ek misaal hai..chahe dost hon...chahe pita...bhai bandhu...usne sabke prati apne buniyadi kartvayon ko nibhaya...hats off to u Ashok!

डॉ. महफूज़ अली (Dr. Mahfooz Ali) said...

बहुत दुःख हुआ जानकार....

श्रद्धांजलि...

डॉ. महफूज़ अली (Dr. Mahfooz Ali) said...

बहुत दुःख हुआ जानकर....

श्रद्धांजलि...

महेश वर्मा mahesh verma said...

मेरी विनम्र श्रद्धांजलि .

Anonymous said...

दुःख की इस घड़ी में हम भी आपके साथ हैं!

के सी said...

विनम्र श्रद्धांजलि।

Rahul Gaur said...

Ashok Ji
Please accept my heart-felt condolence on your bereavement.
Regards

संगीता पुरी said...

बहुत दुखद .. हार्दिक श्रद्धांजलि !!

The Serious Comedy Show. said...

my deep heartfelt condolences.

Ek ziddi dhun said...

आज तड़के पता चला, कुछ नहीं सूझा कि क्या कहा जाए. अशोक भाई जब-तब पिता के बारे में बात करते थे. एक ऐसा सरोकार होता था जो एक बीमार या वृद्ध व्यक्ति के प्रति एक मनुष्य का होने ही चाहिए. हमेशा ही भावुकता से बचते हुए, एक जरूरी जिम्मेदारी की तरह. लेकिन जाहिर है कि अब बहुत मुश्किल गुजर रही होगी, जिसे रोके रखा होगा, छलकने को होता होगा. सान्तवना जैसा कुछ मेरे पास नहीं है, क्या कहूं..

iqbal abhimanyu said...

स्तंभित हूँ.. अपनी पहली बातचीत में ही फोन पर उन्होंने बताया था की आजकल अपने पिताजी की देखभाल में लगे हुए हैं.. उम्मीद करता हूँ की उन्हें इस दुःख य से उबरने की शक्ति मिलेगी.

Pratibha Katiyar said...

श्रद्धांजलि!

Neeraj said...

behad dukhad samachar.
ishwar unhe is dukh ko sahne kee kshmta de ...


shraddhanjali

दीपक 'मशाल' said...

Ishwar divangat aatma ko shanti aur parivarijanon/mitron ko dukh sahne ki shakti deven.

DHARMENDRA LAKHWANI said...

Ishwar unki aatma ko shanti evam aapko parivar sahit yeh dukh sahne ki shakti pradan kare.

सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी said...

मृत आत्मा को विनम्र श्रद्धांजलि...। ईश्वर अशोक जी को यह दुख सहन करने की शक्ति दें। हमारी संवेदनाएँ उनके साथ हैं।

प्रीतीश बारहठ said...

श्रद्धांजलि..

विनीत उत्पल said...

विनम्र श्रद्धांजलि..

विजयशंकर चतुर्वेदी said...

दारुण दुःख की घड़ी है! मुझे देर से पता चला. अशोक भाई, धीरज रखिये.